दगा करे जो भाई से, पावे नहीं सुखचैन मान सम्मान भी ना मिले, जल्दी फूटे नैन – बहुजन इंडिया 24 न्यूज

दगा करे जो भाई से, पावे नहीं सुखचैन मान सम्मान भी ना मिले, जल्दी फूटे नैन

1 min read
Lord buddha

Lord buddha

😊 Please Share This News 😊

बहुजन इंडिया 24 न्यूज़ व बहुजन प्रेरणा दैनिक समाचार पत्र ( सम्पादक मुकेश भारती- सम्पर्क सूत्र 9336114041 )
दूदू जयपुर : (रघुनाथ सुक्रिया – ब्यूरो रिपोर्ट ) दिनांक- 13 – नवंबर – 2021 -शनिवार ।


दगा करे जो भाई से, पावे नहीं सुखचैन
मान सम्मान भी ना मिले, जल्दी फूटे नैन ।।
बड़ा भाई सम बाप है, मत कर तू अन्याय।
छोटे भाई के साथ में, करे सदा ही न्याय।।
मत कर बेदखल भाई को,उसके हक अधिकार से।
तुच्छ लोभ के कारने, मत लड़ निज परिवार से।।
माया मोह के लोभ में, मत कर तू अहंकार।
जर जोरू जमीन सुत, सब कर देंगे इनकार।।
दगा किसी का सगा नहीं, देख हजार प्रमाण।
सबको मरवाकर चला गया, दुर्योधन बलवान।।
जो तू सोचे मेरे जैसा, नहीं कोई परिवार ।
अन्याय के आगे खफ गया, भरा पूरा घरबार।।
क्यों हक छीने भाई का, भाई भाई की लाज।
अधिक अनीति क्यों करें, खुल जासी सब राज।।
देख भाई की फूट को, दुश्मन का लागे दांव।
जगत हंसाई होवसी, ना भलो बतावे गांव।।
भोले भाले छोटे भाई, कानून कायदा क्या जाने।
बड़े भाई की बात को, सदा ही, सांची वो माने।।
देर है अंधेर नहीं प्रकृति,हिसाब बराबर कर देगी।
शेर को सवा शेर मिलेगा,सवाया वसूल भी कर लेगी।।
धन दौलत महल से ऊपर, है जग में मान सम्मान।
प्रभु रख सम दृष्टि सदा, तेरे हाथ में रहे कमान ।।


कवि लेखक शिक्षक प्रभु दयाल रैगर अध्यापक राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय गेजी दूदू निवासी हरसौली दूदू जयपुर राजस्थान

बौद्ध कथा

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे

Donate Now

[responsive-slider id=1466]
error: Content is protected !!