Hapur news :हापुड़ फैक्ट्री में दो सगे भाई श्रमिकों की दम घुटने से हुई मौत – बहुजन इंडिया 24 न्यूज

Hapur news :हापुड़ फैक्ट्री में दो सगे भाई श्रमिकों की दम घुटने से हुई मौत

1 min read

हापुड़ फैक्ट्री में दो सगे भाई श्रमिकों की दम घुटने से हुई मौत

😊 Please Share This News 😊

हापुड़ फैक्ट्री में दो सगे भाई श्रमिकों की दम घुटने से हुई मौत

जनपद हापुड़/पिलखुवा हैंडलूम नगरी में कपड़े की चादरों की छपाई करने वाली फैक्ट्री में दो सगे भाई श्रमिकों की दम घुटने से हुई मौत पिलखुवा क्षेत्र की हैंडलूम नगरी के आर्य नगर में स्थित कपड़े की चादरों की छपाई रंगाई करने वाली फैक्ट्री में काम करने वाले दो सगे भाई श्रमिकों नावेद 22 वर्ष असलम 24 वर्ष की दम घुटने पर हुई दर्दनाक मौत से हैंडलूम नगरी में हड़कंप मचा हुआ है। वही दोनों सगे भाइयों की मौत की सूचना से आहत होकर बहन ने फांसी लगाकर अपनी जीवन लीला समाप्त करने का किया प्रयास जिसको स्थानीय लोगों ने अस्पताल में कराया भर्ती जहां उसकी हालत भी नाजुक बनी हुई है।

बहुजन इंडिया 24 न्यूज़ व बहुजन प्रेरणा दैनिक समाचार पत्र (सम्पादक मुकेश भारती ) मो ० 9336114041 )हापुड़ ( दयानन्द कुमार – ब्यूरो रिपोर्ट )- दिनांक 1 अप्रैल 2022-शुक्रवार ।

जनपद हापुड़/पिलखुवा हैंडलूम नगरी में कपड़े की चादरों की छपाई करने वाली फैक्ट्री में दो सगे भाई श्रमिकों की दम घुटने से हुई मौत पिलखुवा क्षेत्र की हैंडलूम नगरी के आर्य नगर में स्थित कपड़े की चादरों की छपाई रंगाई करने वाली फैक्ट्री में काम करने वाले दो सगे भाई श्रमिकों नावेद 22 वर्ष असलम 24 वर्ष की दम घुटने पर हुई दर्दनाक मौत से हैंडलूम नगरी में हड़कंप मचा हुआ है। वही दोनों सगे भाइयों की मौत की सूचना से आहत होकर बहन ने फांसी लगाकर अपनी जीवन लीला समाप्त करने का किया प्रयास जिसको स्थानीय लोगों ने अस्पताल में कराया भर्ती जहां उसकी हालत भी नाजुक बनी हुई है। गौरतलब रहे कि दोनों सगे भाई नावेद और असलम इस फैक्ट्री में पिछले कई वर्षों से चादरों की रंगाई छपाई का कार्य कर रहे थे जिसके चलते  जैसे ही दोनों भाई फैक्ट्री के कमरे में रखी चादरों को सुखाने के लिए बाहर निकाल कर लाने लगे तभी बेहोश होकर गिर पड़े जब वह काफी देर तक बाहर नहीं आए तो फैक्ट्री में अन्य श्रमिकों के द्वारा कमरे में जाकर देखा गया तो दोनों बेहोश पड़े थे। और तब तक उनकी मौत हो चुकी थी। दोनों श्रमिकों की मौत की खबर हैंडलूम नगरी में जंगल में लगी आग की तरह फैल गई और घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पिलखुवा कोतवाली पुलिस ने दोनों श्रमिकों के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेज कर मामले की जांच शुरू कर दी है। पूछताछ एवं जांच में खुलासा हुआ है कि छात्रों की छपाई करने में केमिकल्स का प्रयोग किया जाता है जिसके चलते कमरे में जहरीली गैस बन गई और दम घुटने पर दोनों भाइयों की मौत हो गई दोनों सगे भाई गढ़मुक्तेश्वर के गांव चित्तौड़ा के रहने वाले हैं जो पिछले 10 वर्षों से पिलखुवा के मोहल्ला शिवाजी नगर में रहकर फैक्ट्री में कार्य कर रहे थे।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे

Donate Now

[responsive-slider id=1466]
error: Content is protected !!