समस्तीपुर बाबू वीर कुंवर सिंह के परपोते की जघन्य हत्या की जांच कर आरोपियों पर कारवाई हो :- बंदना सिंह – बहुजन इंडिया 24 न्यूज

समस्तीपुर बाबू वीर कुंवर सिंह के परपोते की जघन्य हत्या की जांच कर आरोपियों पर कारवाई हो :- बंदना सिंह

1 min read

समस्तीपुर बाबू वीर कुंवर सिंह के परपोते की जघन्य हत्या की जांच कर आरोपियों पर कारवाई हो :- बंदना सिंह

😊 Please Share This News 😊

समस्तीपुर बाबू वीर कुंवर सिंह के परपोते की जघन्य हत्या की जांच कर आरोपियों पर कारवाई हो :- बंदना सिंह

अंग्रेजों के खिलाफ 1857 के विद्रोह के महानायक बाबू वीर कुंवर सिंह के परपोते बबलू सिंह की भोजपुर में हत्या कर देना जघन्य और बर्बर कारबाई है. सरकार घटना की उच्च स्तरीय जांच कर दोषियों को जेल में बंद करे। उक्त बातें भाकपा माले के राज्य कमिटी सदस्य बंदना सिंह ने शुक्रवार को प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा है। उन्होंने आगे कहा कि बबलू सिंह हत्याकांड तथाकथित भाजपा-जदयू के सुशासन की सरकार के माथे पर काला धब्बा है।श्रीमती सिंह ने कहा कि प्रथम स्वतंत्रता संग्राम के अमर सेनानी बाबू वीर कुंवर सिंह की मौत के बाद उनके बदन को अंग्रेजी हुकूमत लाख कोशिश के बादभी छू नहीं सकी थी लेकिन उनके वंशज का आजाद भारत में निशृंस हत्या कर देना, यह कहीं से बर्दाश्त के काबिल नहीं है. भाकपा माले इस जघन्य घटना की घोर निंदा करते हुए इसकी उच्च स्तरीय जांच कराने, दोषियों पर 302 का मुकदमा दर्ज करने, हत्याकांड का स्पीडी ट्रायल चलाकर दोषियों को तत्काल सख्त सजा देने की मांग की है।

बहुजन इंडिया 24 न्यूज़ व बहुजन प्रेरणा दैनिक समाचार पत्र (सम्पादक मुकेश भारती ) मो ० 9336114041 )समस्तीपुर ( जकी अहमद – ब्यूरो रिपोर्ट )- दिनांक 1 अप्रैल 2022-शुक्रवार ।

अंग्रेजों के खिलाफ 1857 के विद्रोह के महानायक बाबू वीर कुंवर सिंह के परपोते बबलू सिंह की भोजपुर में हत्या कर देना जघन्य और बर्बर कारबाई है. सरकार घटना की उच्च स्तरीय जांच कर दोषियों को जेल में बंद करे। उक्त बातें भाकपा माले के राज्य कमिटी सदस्य बंदना सिंह ने शुक्रवार को प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा है। उन्होंने आगे कहा कि बबलू सिंह हत्याकांड तथाकथित भाजपा-जदयू के सुशासन की सरकार के माथे पर काला धब्बा है।श्रीमती सिंह ने कहा कि प्रथम स्वतंत्रता संग्राम के अमर सेनानी बाबू वीर कुंवर सिंह की मौत के बाद उनके बदन को अंग्रेजी हुकूमत लाख कोशिश के बादभी छू नहीं सकी थी लेकिन उनके वंशज का आजाद भारत में निशृंस हत्या कर देना, यह कहीं से बर्दाश्त के काबिल नहीं है. भाकपा माले इस जघन्य घटना की घोर निंदा करते हुए इसकी उच्च स्तरीय जांच कराने, दोषियों पर 302 का मुकदमा दर्ज करने, हत्याकांड का स्पीडी ट्रायल चलाकर दोषियों को तत्काल सख्त सजा देने की मांग की है।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे

Donate Now

[responsive-slider id=1466]
error: Content is protected !!