चक्रवर्ती अशोक सम्राट मौर्य महानायक करुणाशील प्रज्ञा के अग्रदूत की जयंती कृष्णा नगर बिजली घर पर धूमधाम से मनाई – बहुजन इंडिया 24 न्यूज

चक्रवर्ती अशोक सम्राट मौर्य महानायक करुणाशील प्रज्ञा के अग्रदूत की जयंती कृष्णा नगर बिजली घर पर धूमधाम से मनाई

1 min read

चक्रवर्ती अशोक सम्राट मौर्य महानायक करुणाशील प्रज्ञा के अग्रदूत की जयंती कृष्णा नगर बिजली घर पर धूमधाम से मनाई

😊 Please Share This News 😊

चक्रवर्ती अशोक सम्राट मौर्य महानायक करुणाशील प्रज्ञा के अग्रदूत की जयंती कृष्णा नगर बिजली घर पर धूमधाम से मनाई

मथुरा.चक्रवर्ती अशोक सम्राट मौर्य महानायक करुणाशील प्रज्ञा के अग्रदूत की जयंती कृष्णा नगर बिजली घर पर धूमधाम से मनाई मथुरा। 9 अप्रैल 2022 को दोपहर 2:00 बजे चक्रवर्ती सम्राट महानायक करुणाशील प्रज्ञा के अग्रदूत अशोक महान की जयंती कृष्णा नगर बिजली घर मथुरा पर धूमधाम के साथ मनाई एवं सम्राट अशोक को पुष्पांजलि अर्पित की गई। इस अवसर पर लोकतंत्र सुरक्षा पार्टी के अध्यक्ष रमेश सैनी जी एंव भारतीय किसान यूनियन टिकैत के नेता पवन चतुर्वेदी जी ने सम्राट अशोक के स्वर्णिम भारत का उल्लेख करते हुए बताया कि सम्राट अशोक के जमाने में भारत शेरों का भारत कहा जाता था। अपने बयान में अध्यक्ष लुकेश राही एवं समाजसेवी सुरेंद्र सम्राट ने संयुक्त रूप से सम्राट अशोक के शासनकाल को जन कल्याणकारी शासन बताकर भारत में उसके पुनर्स्थापना का संकल्प लिया।और विश्वप्रसिद्ध एवं शक्तिशाली भारतीय मौर्य राजवंश के महान सम्राट थे।

बहुजन इंडिया 24 न्यूज़ व बहुजन प्रेरणा दैनिक समाचार पत्र (सम्पादक मुकेश भारती ) मो ० 9336114041 )मथुरा: ( विजय कुमार – ब्यूरो रिपोर्ट )- दिनांक11 अप्रैल 2022- सोमवार ।

मथुरा.चक्रवर्ती अशोक सम्राट मौर्य महानायक करुणाशील प्रज्ञा के अग्रदूत की जयंती कृष्णा नगर बिजली घर पर धूमधाम से मनाई मथुरा। 9 अप्रैल 2022 को दोपहर 2:00 बजे चक्रवर्ती सम्राट महानायक करुणाशील प्रज्ञा के अग्रदूत अशोक महान की जयंती कृष्णा नगर बिजली घर मथुरा पर धूमधाम के साथ मनाई एवं सम्राट अशोक को पुष्पांजलि अर्पित की गई। इस अवसर पर लोकतंत्र सुरक्षा पार्टी के अध्यक्ष रमेश सैनी जी एंव भारतीय किसान यूनियन टिकैत के नेता पवन चतुर्वेदी जी ने सम्राट अशोक के स्वर्णिम भारत का उल्लेख करते हुए बताया कि सम्राट अशोक के जमाने में भारत शेरों का भारत कहा जाता था। अपने बयान में अध्यक्ष लुकेश राही एवं समाजसेवी सुरेंद्र सम्राट ने संयुक्त रूप से सम्राट अशोक के शासनकाल को जन कल्याणकारी शासन बताकर भारत में उसके पुनर्स्थापना का संकल्प लिया।और विश्वप्रसिद्ध एवं शक्तिशाली भारतीय मौर्य राजवंश के महान सम्राट थे। मौर्य राजवंश के चक्रवर्ती सम्राट अशोक ने अखण्ड भारत पर राज्य किया। और सम्राट अशोक का साम्राज्य आज का सम्पूर्ण भारत, पाकिस्तान, अफ़ग़ानिस्तान, नेपाल, बांग्लादेश, भूटान, म्यान्मार के अधिकांश भूभाग पर था। यह विशाल साम्राज्य उस समय तक से आज तक का सबसे बड़ा भारतीय साम्राज्य रहा है। चक्रवर्ती सम्राट अशोक विश्व के सभी महान एवं शक्तिशाली सम्राटों एवं राजाओं की पंक्तियों में हमेशा शीर्ष स्थान पर ही रहे हैं। सम्राट अशोक ही भारत के सबसे शक्तिशाली एवं महान सम्राट है। सम्राट अशोक को चक्रवर्ती सम्राट अशोक कहा जाता है जिसका अर्थ है सम्राटों के सम्राट और यह स्थान भारत में केवल सम्राट अशोक को मिला है। सम्राट अशोक को अपने विस्तृत साम्राज्य से बेहतर कुशल प्रशासन तथा बौद्ध धर्म के प्रचार के लिए भी जाना जाता है। सम्राट अशोक ने संपूर्ण एशिया में तथा अन्य आज के सभी महाद्विपों में भी बौद्ध पन्थ का प्रचार किया। सम्राट अशोक के सन्दर्भ के स्तम्भ एवं शिलालेख आज भी भारत के कई स्थानों पर दिखाई देते है। सम्राट अशोक प्रेम,सहिष्णूता,सत्य,अहिंसा एवं शाकाहारी जीवनप्रणाली के सच्चे समर्थक थे। इसलिए उनका नाम इतिहास में महान परोपकारी सम्राट के रूप में भी दर्ज हो चुका है। और पुष्पांजलि सभा में प्रीतम सिंह औरंगाबाद, एडवोकेट सौदान सिंह, आकाश बाबू, सुरेश नागर,विनोद बघेल ,साबिर खान, सौदान पेंटर ,राजू माहोर, दिनेश मिस्त्री, चित्रसेन मौर्य आदि उपस्थित रहे।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे

Donate Now

[responsive-slider id=1466]
error: Content is protected !!