लखीमपुर खीरी ग्राम समाज की भूमि पर भू माफिया सक्रिय होने से जनता में आक्रोश फैल रहा है – बहुजन इंडिया 24 न्यूज

लखीमपुर खीरी ग्राम समाज की भूमि पर भू माफिया सक्रिय होने से जनता में आक्रोश फैल रहा है

1 min read

लखीमपुर खीरी ग्राम समाज की भूमि पर भू माफिया सक्रिय होने से जनता में आक्रोश फैल रहा है

😊 Please Share This News 😊

लखीमपुर खीरी ग्राम समाज की भूमि पर भू माफिया सक्रिय होने से जनता में आक्रोश फैल रहा है

तिकुनियां में आबादी की भूमि पर कब्जे के प्रयाश तेज, प्रशासन मौन ग्राम समाज की भूमि पर भू माफिया सक्रिय होने लगे है। जिसको लेकर जनता में आक्रोश फैल रहा है। तहसील प्रशासन भी इस हो रहे अवैध निर्माण को लेकर ठोस कदम नही उठा रहा है। कस्बे में माल गोदाम के सामने ग्राम समाज की आबादी की भूमि है जिसपर पूर्व में जो कब्जा धारक था वह छोड़कर जा चुका है। लेकिन पहले के कब्जा धारक ने यह जमीन लाखो रुपये की बेंच दी है और खरीददार व्यक्ति ने इस भूमि पर निर्माण कार्य शुरू करा दिया। कब्जे की बात आग की तरह फैल गई और लोगो ने प्रधान, लेखपाल को जानकारी दी जिस पर निर्माण कार्य तो रोक दिया गया लेकिन चोरी छिपे मिट्टी पटान का कार्य जारी है। सूत्र बताते है कि यह जमीन एक करोड़ से अधिक की है इसलिए इस भूखंड पर गिद्ध की तरह माफियाओं की नजरें जमी है।

बहुजन इंडिया 24 न्यूज़ व बहुजन प्रेरणा दैनिक समाचार पत्र (सम्पादक मुकेश भारती ) मो ० 9336114041)लखीमपुर खीरी: (अमरेन्द्र सिंह – ब्यूरो रिपोर्ट )- दिनांक19 अप्रैल 2022-मंगलवार ।

तिकुनियां में आबादी की भूमि पर कब्जे के प्रयाश तेज, प्रशासन मौन ग्राम समाज की भूमि पर भू माफिया सक्रिय होने लगे है। जिसको लेकर जनता में आक्रोश फैल रहा है। तहसील प्रशासन भी इस हो रहे अवैध निर्माण को लेकर ठोस कदम नही उठा रहा है। कस्बे में माल गोदाम के सामने ग्राम समाज की आबादी की भूमि है जिसपर पूर्व में जो कब्जा धारक था वह छोड़कर जा चुका है। लेकिन पहले के कब्जा धारक ने यह जमीन लाखो रुपये की बेंच दी है और खरीददार व्यक्ति ने इस भूमि पर निर्माण कार्य शुरू करा दिया। कब्जे की बात आग की तरह फैल गई और लोगो ने प्रधान, लेखपाल को जानकारी दी जिस पर निर्माण कार्य तो रोक दिया गया लेकिन चोरी छिपे मिट्टी पटान का कार्य जारी है। सूत्र बताते है कि यह जमीन एक करोड़ से अधिक की है इसलिए इस भूखंड पर गिद्ध की तरह माफियाओं की नजरें जमी है।

 

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे

Donate Now

[responsive-slider id=1466]
error: Content is protected !!