अयोध्या भारत रत्न संविधान निर्माता डॉक्टर बी आर अम्बेडकर का जन्म महोत्सव पर जन जागृति कार्यक्रम आयोजित किया गया – बहुजन इंडिया 24 न्यूज

अयोध्या भारत रत्न संविधान निर्माता डॉक्टर बी आर अम्बेडकर का जन्म महोत्सव पर जन जागृति कार्यक्रम आयोजित किया गया

1 min read

अयोध्या भारत रत्न संविधान निर्माता डॉक्टर बी आर अम्बेडकर का जन्म महोत्सव पर जन जागृति कार्यक्रम आयोजित किया गया

😊 Please Share This News 😊

अयोध्या भारत रत्न संविधान निर्माता डॉक्टर बी आर अम्बेडकर का जन्म महोत्सव पर जन जागृति कार्यक्रम आयोजित किया गया

अयोध्या जिले के बीकापुर विकास खण्ड क्षेत्र के तोरोमाफी दराबगंज में भारत रत्न संविधान निर्माता डॉक्टर बी आर अम्बेडकर का जन्म महोत्सव पर जन जागृति कार्यक्रम आयोजित किया गया,,जिसमें समाज के साथ फैले भेदभाव ऊंच नीच की भावनाओं व कुरीतियों पर दलित पिछड़ों के साथ हुए अत्याचार के प्रति जागृति कार्यक्रम करते हुए झांकियां भी दिखाई गई,, मौके पर मौजूद दर्शक लोग झांकी से दिखें भावुक,भीम महोत्सव कार्यक्रम में बाबा शाहब के जीवन काल व शिक्षा दीक्षा पर विभिन्न वक्ताओं ने अपना अपना ओजस्वी विचार भी रखा,जिस वक्ताओं ने एक दूसरे के वक्तव्य को जोड़ते हुए,,उनके विचार धारा को आगे बढ़ाने के लिए लोगों ने संकल्प भी लिया।

बहुजन इंडिया 24 न्यूज़ व बहुजन प्रेरणा दैनिक समाचार पत्र (सम्पादक मुकेश भारती ) मो ० 9336114041)अयोध्या : ( फूलचन्द्र – ब्यूरो रिपोर्ट )- दिनांक19 अप्रैल 2022-मंगलवार ।

अयोध्या जिले के बीकापुर विकास खण्ड क्षेत्र के तोरोमाफी दराबगंज में भारत रत्न संविधान निर्माता डॉक्टर बी आर अम्बेडकर का जन्म महोत्सव पर जन जागृति कार्यक्रम आयोजित किया गया,,जिसमें समाज के साथ फैले भेदभाव ऊंच नीच की भावनाओं व कुरीतियों पर दलित पिछड़ों के साथ हुए अत्याचार के प्रति जागृति कार्यक्रम करते हुए झांकियां भी दिखाई गई,, मौके पर मौजूद दर्शक लोग झांकी से दिखें भावुक,भीम महोत्सव कार्यक्रम में बाबा शाहब के जीवन काल व शिक्षा दीक्षा पर विभिन्न वक्ताओं ने अपना अपना ओजस्वी विचार भी रखा,जिस वक्ताओं ने एक दूसरे के वक्तव्य को जोड़ते हुए,,उनके विचार धारा को आगे बढ़ाने के लिए लोगों ने संकल्प भी लिया।,बाबा साहब अम्बेडकर के द्वारा समाज को दिए हुए तीन मूल मंत्र , शिक्षित बनो, संगठित बनो, संघर्ष करो को मजबूत व विकास का आधार बताया,,जिसे सभी वर्ग व जाति को अम्ल में लाने की जरूरत है,तभी पिछड़े समाज आगे बढ़ पायेगा ,और हक की लड़ाई लड़ सकेगा,,भीम महोत्सव कार्यक्रम के आयोजक दयाराम एस भारती ने बताया कि समाज के लोगों को बाबा साहेब के संघर्ष व मेहनत से मिले हक व अधिकार सम्मान को बचाए, और देश के भाविष्य व अपने बच्चों को अच्छी शिक्षा दिलाएं, परिवार व समाज की तरक्की करें,कार्यक्रम का कुशल संचालन कर रहे भरत बौद्ध वास्तविक ने बताया शिक्षा एक ऐसी शेरनी का दूध है,जो पीता है ,वहीं दहाड़ता है,, इसलिए शिक्षित समाज की जरूरत है,तभी अपने हक एवं अधिकार को पहचान सकगें भीम महोत्सव जागृति कार्यक्रम के दौरान कपिल कुमार कोरी, कृपाराम कोरी,लक्ष्मी प्रसाद बौद्ध, सूर्य प्रताप बौद्ध, कन्हैयालाल कोटेदार, राकेश मधुकर,नन्कूऊ कोरी, सहित भारी संख्या में महिलाएं, बच्चे , बुजुर्ग , क्षेत्र के अन्य गणमान्य लोग रहे।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे

Donate Now

[responsive-slider id=1466]
error: Content is protected !!