गुप्तार घाट से नया घाट तक सरयू नदी के किनारे अब नया बंधा बनाया जाएगा – बहुजन इंडिया 24 न्यूज

गुप्तार घाट से नया घाट तक सरयू नदी के किनारे अब नया बंधा बनाया जाएगा

1 min read

गुप्तार घाट से नया घाट तक सरयू नदी के किनारे अब नया बंधा बनाया जाएगा

😊 Please Share This News 😊

संवाददाता :  : अयोध्या : : फूलचन्द्र ::गुप्तार घाट से नया घाट तक सरयू नदी के किनारे अब नया बंधा बनाया जाएगा
उत्तर प्रदेश में भाजपा व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पुनःपूर्ण बहुमत से सरकार बनने के बाद अयोध्या के विकास कार्यों में पंख लगने जा रहा है।इसी कड़ी में अयोध्या जनपद में विकास में एक नया आयाम जुड़ गया है। गुप्तार घाट से नया घाट तक सरयू नदी के किनारे अब नया बंधा बनाया जाएगा। बंधे के ऊपर 6 मीटर चौड़ी सड़क भी तैयार कराई जाएगी। गौरतलब है करीब 9 महीने के अंदर गुप्तार घाट नया घाट से जुड़ जाएगा। गुप्तार घाट से नया घाट तक बनने वाले बांध और 6 मीटर चौड़ी सड़क की लागत 39 करोड़ रुपए की है।

बहुजन इंडिया 24 न्यूज़ व बहुजन प्रेरणा दैनिक समाचार पत्र (सम्पादक मुकेश भारती ) मो ० 9336114041)

उत्तर प्रदेश में भाजपा व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पुनःपूर्ण बहुमत से सरकार बनने के बाद अयोध्या के विकास कार्यों में पंख लगने जा रहा है।इसी कड़ी में अयोध्या जनपद में विकास में एक नया आयाम जुड़ गया है। गुप्तार घाट से नया घाट तक सरयू नदी के किनारे अब नया बंधा बनाया जाएगा। बंधे के ऊपर 6 मीटर चौड़ी सड़क भी तैयार कराई जाएगी। गौरतलब है करीब 9 महीने के अंदर गुप्तार घाट नया घाट से जुड़ जाएगा। गुप्तार घाट से नया घाट तक बनने वाले बांध और 6 मीटर चौड़ी सड़क की लागत 39 करोड़ रुपए की है। करीब 9 किलोमीटर का ये  बंधा और उस पर बनने वाली सड़क का  जिलाधिकारी नीतीश कुमार ने संबंधित अधिकारियों के साथ निरीक्षण करते हुए आवश्यक दिशा निर्देश भी दिए हुए हैं।वही निरीक्षण के दौरान डीएम नीतीश कुमार ने बताया कि अयोध्या की ऐतिहासिकता और महत्ता को देखते हुए उत्तर प्रदेश शासन द्वारा विकास के कार्य को तेजी के साथ कराया जा रहा है और आने वाले समय में अयोध्या एक नए लुक में नजर आएगी। दरसअल उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अयोध्या दौरे पर हैं जहां रामलला हनुमानगढ़ी का दर्शन पूजन करेंगे और गुप्तार घाट पर महाराणा प्रताप की मूर्ति का अनावरण भी करेंगे।जिस पर जानकारी देते हुए नीतीश कुमार, डीएम अयोध्या ने बताया।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे

Donate Now

[responsive-slider id=1466]
error: Content is protected !!