अयोध्या : विद्युत पोल में करंट उतारने से छूट्टा साड की मौत बाजार की बिजली हुई गुल – बहुजन इंडिया 24 न्यूज

अयोध्या : विद्युत पोल में करंट उतारने से छूट्टा साड की मौत बाजार की बिजली हुई गुल

1 min read
😊 Please Share This News 😊

बहुजन इंडिया 24 न्यूज़ व बहुजन प्रेरणा दैनिक हिंदी समाचार पत्र (सम्पादक मुकेश भारती ) 9161507983
अयोध्या : (फूलचन्द्र – ब्यूरो रिपोर्ट )


अयोध्या : विद्युत पोल में करंट उतारने से छूट्टा साड की मौत बाजार की बिजली हुई गुल

मिल्कीपुर के छेत्रीय विधायक बाबा गोरखनाथ के फोन करने के बाद तब हरकत में आया बिजली विभाग 3 घंटे के बाद पहुँचे हैडिल संविदा कर्मी

अमानीगंज अयोध्या। देर रात पश्चिम नाका अमानीगंज बाजार में क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक के ठीक सामने विद्युत पोल से करंट उतारने के कारण छुट् टा जानवर की मौत हो गई और खंबे से चिपक गया और रबि भारद्वाज बाजार से सौदा खरीद कर घर वापस जा रहे थे । तभी इस अचानक हादसे को देखकर उन्होंने तुरंत बिजली विभाग के जेई व एसडीओ व हैडिल के संविदा कर्मचारी को फोन किया तो किसी का फोन नहीं उठा इतने में बाजार वासियों में हड़कंप मच गया लोग फोन बराबर लगाते रहे फिर भी बिजली विभाग के कर्मचारी की कुंभकर्णी आंखे नही खुली तो अत्योंगत्ता बिवस होकर मिल्कीपुर के विधायक बाबा गोरखनाथ का सहारा लेना पड़ा। विधायक के फोन करने के बाद 3 घंटे बाद हरकत में आया बिजली विभाग व संविदा के संविदा कर्मचारी घटनास्थल पर पहुंचे तो किसी तरह तो चिपके हुए मवेशी को हटाया बड़ी मशक्कत के बाद और देर रात बाजार वासियों में काफी आक्रोश देखने को मिला नजारा चार घंटे बाद अमानीगंज बाजार की बिजली हुई बहाल बड़ी जलालत झेलने के बाद और बाजार वासियों व व्यापार वासियों व संभ्रांत व्यक्तियों बिजली विभाग के प्रति जेई व एसडीओ पर फोन ना उठाने का आरोप लगाया है अधिकाशंतः इस विभाग के कर्मचारी का फोन नहीं उठता है। बराबर घंटी बजती रहती है यह है बिजली विभाग का कारनामा इसी प्रकार बिजली विभाग की रवैया चलती रही तो इससे बड़ी घटना हो सकती है या बिजली विभाग बहुत बड़ी घटना का इंतजार कर रहा है यह है बिजली विभाग के कर्मचारी का जीता जागता उदाहरण।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे

Donate Now

[responsive-slider id=1466]
error: Content is protected !!