समस्तीपुर : पूसा कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति व भू – संपदा अधिकारी को अविलंब बर्खास्त किया जाय: – आइसा – बहुजन इंडिया 24 न्यूज

समस्तीपुर : पूसा कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति व भू – संपदा अधिकारी को अविलंब बर्खास्त किया जाय: – आइसा

1 min read
😊 Please Share This News 😊

बहुजन इंडिया 24 न्यूज़ व बहुजन प्रेरणा दैनिक हिंदी समाचार पत्र ( सम्पादक मुकेश भारती ) 9161507983
समस्तीपुर : ( जकी अहमद – ब्यूरो रिपोर्ट )


समस्तीपुर : पूसा कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति व भू – संपदा अधिकारी को अविलंब बर्खास्त किया जाय: – आइसा

समस्तीपुर जिले के पुसा में राजेंद्र प्रसाद कृषि विश्वविद्यालय,पूसा में व्याप्त शैक्षणिक व प्रशासनिक अराजकता व भ्रष्टाचार के खिलाफ ऑल इंडिया स्टूडेंट्स एसोसिएशन (आइसा) ने मोर्चा खोल दिया है।इसी कड़ी में आज उमा पांडे कॉलेज पूसा में एक संवाददाता सम्मेलन का आयोजन किया गया।जिसको संबोधित करते हुए आइसा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सह प्रदेश अध्यक्ष मोख्तार ने कहा की मोदी सरकार जब से देश के सत्ता में आई है तब से आजतक लगातार विश्वविद्यालयों को बर्बाद करने की कोशिश कर रही है जिसमे राजेंद्र प्रसाद कृषि विश्वविद्यालय,पूसा भी शामिल है।मोदी सरकार लगातार विश्वविद्यालयों को बर्बाद करने की साजिश रच रही है जिसको बिहार का छात्र नौजवान बर्दास्त नही करेगा। उन्होंने कहा की विश्वविद्यालय में कुलपति की मनमानी चरम पर है।कुलपति विश्वविद्यालय को बचाने में लगे छात्र युवाओं के परिजन को नौकरी से निकालने की साजिश कर रहे है जो अलोकतांत्रिक है।उन्होंने कहा की 100 सीट का विज्ञापन निकाला जाता है लेकिन बहाली 135 सीट पर कर दी गई जिसमे बड़े पैमाने पर घोटाले हुए है।कुलपति अपने सगे संबंधियों को बहाल करने में लगे हुए है।एलडीसी और जूनियर अकाउंटेंट की बहाली प्रकिया जारी है जिसमे छात्रों का आवेदन ले लिया गया लेकिन जब परीक्षा का वक्त आता है तो शॉर्ट लिस्टेड कर बड़े पैमाने पर छात्र युवाओं को हटाने और अपने सगे संबंधियों को बहाल करने के लिए प्रशासन तिकरम कर रहीं है।उन्होंने सभी अभ्यर्थियों को परीक्षा में शामिल करने की मांग की।साथी ही भ्रष्टाचार में शामिल कुलपति, भू – संपदा पदाधिकारी और सुरक्षा प्रराही को अविलंब ब्रखस्त किया जाय। आइसा राज्य सह सचिव संदीप कुमार चौधरी ने कहा की बिहार के उच्च शिक्षा पर यूपी के सांघियो का कब्जा है जो विश्वविद्यालयों को बर्बाद करने में लगे हुए।उन्होंने कहा की कृषि विश्वविद्यालय बिहार भर का विश्वविद्यालय है जिसमे देश विदेश के छात्र अध्ययन अध्यापन करने आते है लेकिन छात्रों के लिया आधारभूत संरचना की भारी कमी है लेकिन लूट बड़े पैमाने पर जारी है जिसे बिहार का छात्र नौजवान बर्दास्त नही करेगा और कुलपति सहित उनके गुर्गे को बोरियां बिस्तर बांध कर विदा करेगी।उन्होंने कहा की नियुक्ति घोटाला और अनियमित्ता को लेकर 16 जुलाई को छात्र,युवा, किसान,मजदूर विश्वविद्यालय प्रशासन से हिसाब दो जवाब दो आंदोलन के माध्यम से घेराव करेगी। वहीं आइसा जिला जिला सचिव सुनील कुमार ने कहा कि डॉ राजेंद्र प्रसाद केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालय में पिछले एक महीना से तीन मांगों को लेकर आंदोलन चल रहा था जिसमें एक मांग का कुछ समाधान हुआ है जब की नियुक्ति घोटाला एवं विश्वविद्यालय कोष का बंदर बाट का उच्च स्तरीय जांच कराने एवं पारदर्शी तरीके से विश्वविद्यालय चलाने की मांग को लेकर आइसा का आंदोलन जारी रहेगा रहेगा। माले पूसा प्रखंड सचिव अमित कुमार ने कहा कि जवाब दो, हिसाब दो आंदोलन के तहत 16 जुलाई को छात्र – युवा, मजदूर, किसान का पूसा चलो विश्वविद्यालय बचाओ आंदोलन में छात्राओं से शामिल होने की अपील की है। आइसा जिला अध्यक्ष लोकेश राज,जिला उपाध्यक्ष रौशन कुमार, मनीषा कुमारी, ललित साहनी, कार्यालय सचिव राजू झा, मों. फरामन, गंगा प्रसाद पासवान, दीपक यदुवंशी,मनीष कुमार, मनीष यादव, ब्रज किशोर, महेश कुमार, इत्यादि थे।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे

Donate Now

[responsive-slider id=1466]
error: Content is protected !!