फतेहपुर :: : बिजली विभाग की बड़ी लापरवाही के चलते संविदा लाइन मैन की तीसरी बार बची जान – बहुजन इंडिया 24 न्यूज

फतेहपुर :: : बिजली विभाग की बड़ी लापरवाही के चलते संविदा लाइन मैन की तीसरी बार बची जान

1 min read
😊 Please Share This News 😊

 बहुजन इंडिया 24 न्यूज व बहुजन प्रेरणा दैनिक हिंदी समाचार पत्र ( सम्पादक मुकेश भारती ) 9161507983

फतेहपुर : * (सुशील कुमार गौतम – ब्यूरो रिपोर्ट)


फतेहपुर :: : बिजली विभाग की बड़ी लापरवाही के चलते संविदा लाइन मैन की तीसरी बार बची जान

बिजली विभाग की बड़ी लापरवाही के चलते संविदा लाइन मैन की तीसरी बार बची जान खागा फतेहपुर आपको बताते चले कि बिजली विभाग की बड़ी लापरवाही के चलते संविदा लाइनमैन मानेंद्र कुमार उर्फ राजू आज सुबह मुसवा पर मुहल्ले में खम्भे से टूटे जम्फर को जोड़ने के लिए लाइट का सिट डाउन थरियांव फीडर से सुबह 8.05पर लिया वही पर टाउन से 8.31सिट डाउन लिया गया और टाउन से 8.34 पर सिट डाउन वापस लिया परंतु रोस्टिंग के चलते लाइट नही थी और राजू जम्फर जोड़ रहा था अचानक टाउन लाइट चालू हो गई और राजू बुरी तरह जल गया और खम्भे से नीचे गिर गया जान बच गई साथ दो ग्रामीण वहां पर मौजूद थे जो राजू को आदर्श हॉस्पिटल खागा ले गए बिजली ऑफिस में जानकारी ली तो थरियांव फीडर बंद था परंतु टाउन फीडर चालू हो जाने के कारण यह घटना घटी आपको बताते चले की एक ही खम्भे में थरियांव फीडर व टाउन फीडर की तार लगी है जिसके चलते इस तरह की घटना राजू के साथ दो बार पहले भी हो चुकी है ।परंतु बिजली विभाग अब भी नीद में है उन फीडर को अलग अलग खम्भों में नही करवा रहा है शायद जब तक किसी लाइन में कई जान नही जाएगी विजली विभाग की आँखे नही खुलेगी इसके साथ साथ सारी तारे पूरी तरह से जर्जर है आये दिन टूटती रहती है और बेचारे संविदा लाइनमैन उनको जोड़ते रहते है और इन घटनाओं की शिकार होते रहते है ।आदर्श हॉस्पिटल से राजू को कानपुर के किसी निजी हॉस्पिटल के लिए रिफर कर दिया गया है ।ग्रामीण जे0 ई0 विनोद कुमार से इस घटना की जानकारी लेने की कोशिश जब मीडिया ने करनी चाही तो कुछ भी बताने से इन्कार कर दिया ।आखिर इस तरह की घटनायें कब तक घटती रहेगी क्या विजली विभाग किसी बड़ी घटना का इंतजार कर रही है ।


सुशील कुमार गौतम के साथ जितेंद्र कुमार मौर्य
फतेहपुर ब्योरो चीफ
उत्तर प्रदेश

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे

Donate Now

[responsive-slider id=1466]
error: Content is protected !!