समस्तीपुर : समस्तीपुर में नीट में ओबीसी आरक्षण खत्म करने के खिलाफ निकाला प्रतिरोध मार्च – आइसा – बहुजन इंडिया 24 न्यूज

समस्तीपुर : समस्तीपुर में नीट में ओबीसी आरक्षण खत्म करने के खिलाफ निकाला प्रतिरोध मार्च – आइसा

1 min read
😊 Please Share This News 😊

बहुजन इंडिया 24 न्यूज़ व बहुजन प्रेरणा हिंदी दैनिक समाचार पत्र (सम्पादक मुकेश भारती ) 9161507983
समस्तीपुर : जकी अहमद (ब्यूरो रिपोर्ट )


समस्तीपुर : समस्तीपुर में नीट में ओबीसी आरक्षण खत्म करने के खिलाफ निकाला प्रतिरोध मार्च – आइसा

समस्तीपुर में नीट के केंद्रीय कोटे में राज्य की सीटों में 27% ओबीसी आरक्षण लागू करे सरकार – सुनील नीट में ओबीसी आरक्षण खत्म करने के खिलाफ अखिल भारतीय छात्र – युवा विरोध दिवस के तहत आइसा जिला कमेटी के बैनर तले आइसा के दर्जनों कार्यकर्ता अपने हाथों में मांगों से संबंधित कार्डबोर्ड लिए लेनिन आश्रम मालगोदाम चौक से जुलूस निकाल कर विभिन्न मार्गो से होते हुए पुनः मालगोदाम चौक पहुंच कर सभा में तब्दील हो गया। सभा की अध्यक्षता आइसा जिला अध्यक्ष लोकेश राज तथा संचालन जिला सह – सचिव प्रीति कुमारी ने की। आइसा जिला सचिव सुनील कुमार ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि केंद्र के भाजपा सरकार नीट में ओबीसी आरक्षण को खत्म कर केवल सामाजिक न्याय की हत्या नहीं की है बल्कि शैक्षणिक एवं सरकारी संस्थानों की स्वायत्तता को खत्म करने की बुनियाद को मजबूत कर रही हैं। सरकार के इस फैसले से ओबीसी कैटेगरी से आने वाले 11000 छात्र – छात्रों को नीट में सीटों से वंचित कर दिया गया। केंद्र सरकार लगातार संविधान, आरक्षण एवं समानता पर हमला कर रही है। इस फैसलों से सरकार ओबीसी केटेगरी को शिक्षा से बाहर करने की साजिश रच रही हैं। आइसा मांग करती है कि सभी शैक्षणिक संस्थानों में सामाजिक न्याय को सुनिश्चित करें तथा नीट के केंद्रीय कोटे में राज्य की सीटों में 27% ओबीसी आरक्षण लागू करें।आइसा जिला अध्यक्ष लोकेश राज ने कहां की जब तक नीट में आरक्षण को पुनः लागू नही किया जाता है तो आइसा छात्र – युवाओं को गोल बंद कर चरणबद्ध आंदोलन चलाएगी। वही प्रतिरोध मार्च में आइसा जिला उपाध्यक्ष मनीषा कुमारी रोशन कुमार जिला सचिव जितेंद्र कुमार, कार्यालय सचिव राजू झा, अजय कुमार, मनीष कुमार, अभिषेक कुमार, सौरभ कुमार, राजू कुमार इत्यादि उपस्थित थे।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे

Donate Now

[responsive-slider id=1466]
error: Content is protected !!