माइक्रो प्लान के अनुसार फॉगिंग, एंटी लार्वा का छिड़काव कराएं- मुख्य विकास अधिकारी – बहुजन इंडिया 24 न्यूज

माइक्रो प्लान के अनुसार फॉगिंग, एंटी लार्वा का छिड़काव कराएं- मुख्य विकास अधिकारी

1 min read
😊 Please Share This News 😊

संवाददाता : :मैनपुरी: : अवनीश कुमार :: Date ::29 – 9 -2022 ::प्रत्येक ग्राम पंचायत में गठित ग्राम स्वच्छता समिति की प्रतिमाह बैठक आयोजित की जाये- मुख्य विकास अधिकारी

मैनपुरी 29 सितंबर, 2022- मुख्य विकास अधिकारी विनोद कुमार ने 01 अक्टूबर से प्रारंभ हो रहे विशेष संचारी रोग नियंत्रण एवं 07 अक्टूबर से प्रारंभ हो रहे दस्तक अभियान को सफल बनाए जाने के उद्देश से आयोजित अंतर विभागीय बैठक की समीक्षा के दौरान उपस्थित खंड विकास अधिकारियों को सचेत करते हुए कहा कि प्रत्येक ग्राम पंचायत में गठित ग्राम स्वच्छता समिति की प्रतिमाह बैठक आयोजित हो, संजय संचारी रोगों की रोकथाम हेतु ग्राम प्रधानों, सचिवों के कार्यों, दायित्वों की समीक्षा करें, माइक्रो प्लान के अनुसार प्रभावी कार्यवाही की जाए अभियान के दौरान घर-घर भ्रमण करने पर आशा, ए.एन.एम. परिजनों से वार्ता कर वेक्टर जनित बीमारियों से बचाव हेतु जागरूक करें, जिन घरों में 15 वर्ष से कम आयु के बच्चे हों या किसी घर में टी.वी. से ग्रसित मरीज मिले तो उसके घर पर स्टीकर लगाकर उसकी सूचना उपलब्ध करायें, संबंधित अधिकारी आपस में समन्वय स्थापित कर वेक्टर जनित बीमारियों की रोकथाम की दिशा में कार्य करें, तहसील, ब्लॉक, ग्राम स्तरीय अधिकारी, कर्मचारी अपने-अपने क्षेत्र में लोगों को वेक्टर जनित बीमारियों से बचाने हेतु जागरूक करें, शहरी, ग्रामीण क्षेत्रों में नियमित रूप से एंटी लार्वा का छिड़काव कराया जाए, सभी स्वास्थ्य केंद्रों पर चिकित्सक, पैरामेडिकल स्टाफ उपस्थित रहे, पर्याप्त मात्रा में दवाएं भी सभी स्वास्थ्य केंद्रों पर उपलब्ध रहें।

श्री कुमार ने कहा कि माइक्रो प्लान के अनुसार फॉगिंग, एंटी लार्वा का छिड़काव कराएं, ग्रामीण क्षेत्रों में ऐसे स्थान जहां जलभराव की स्थिति बनी रहती है उन्हें चिन्हित कर सम्बन्धित खंड विकास अधिकारियों के माध्यम से जल निकासी के उचित प्रबन्ध किये जायें, पशुपालकों विशेषकर सूकर पालकों को हिदायत दी जाए कि वह अपने जानवरों को बाड़े में ही बांधकर रखें, किसी भी दशा में खुला न छोड़ें बाड़ों में सफाई के मुकम्मल इंतजाम किए जाएं। उन्होंने कहा कि अभियान से जुड़े सभी अधिकारी, कर्मचारी जन-सामान्य को जल पात्रों में पानी एकत्र न होने देने के लिए प्रेरित करें, उन्हें बतायें कि डेंगू का मच्छर साफ पानी में ही पैदा होता है, इसलिए कूलर, फिज की ट्रे गमलों की प्रत्येक दशा में सफाई करें, कहीं भी जल जमाव न होने देना, बासी भोजन न खाना और दूषित जल का सेवन न करें, लोगों को व्यक्तिगत साफ-सफाई रख अपने गांव, मोहल्ले के वातावरण को स्वच्छ रखने समुदाय को साफ-सफाई के लिये प्रेरित करें, संचारी रोगों की रोकथाम हेतु हमें हर सम्भव प्रयास करें जिससे हमारे परिवार एवं समुदाय इन रोगों से मुक्त रहें। उन्होंने कहा कि संचारी रोग की रोकथाम हेतु गांव एवं शहर

में रोस्टर के अनुसार फोगिंग, एन्टीलार्वा का छिड़काव किया जाय ताकि संचारी रोग के कीटाणु पनप न सकें, अभियान के दौरान लार्वारोधी गतिविधियों का नियमित संचालन हो, ग्रामों में नालियों की साफ-सफाइ, झाडियों का कटान, उथले हैडपम्पों को लाल रंग से चिन्हीकरण तथा इण्डिया मार्का हैडपम्प मरम्मत करायी जाये।

मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि आवासीय क्षेत्रों के आस-पास छछूंदर, चूहों आदि को नियंत्रित करने हेतु उपाय किये जायें, जिला कृषि अधिकारी इस हेतु प्रभावी कार्ययोजना बनाकर लोगों को चूहा-छछूंदर से निजात दिलाने की दिशा में कार्य करें, ग्रामीण क्षेत्रों में बादी के बीच वाले तालाबों को अपशिष्ट तथा प्रदूषण मुक्त करने हेतु कार्य किया जाये। बैठक में मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. पी.पी. सिंह, मुख्य चिकित्साधीक्षक डा. मदन लाल, अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. राजीव राय, डॉ. संजीव राव बहादुर, जिला विद्यालय निरीक्षक मनोज कुमार वर्मा, जिला कार्यक्रम अधिकारी ज्योति शाक्य, जिला पंचायत राज अधिकारी अविनाश चन्द, जिला कृषि अधिकारी सूर्यप्रताप परियोजना अधिकारी डूडा आर.के. सिंह, यूनिसेफ से संजीव पांडे, स्वास्थ्य शिक्षाधिकारी रविंद्र गौर, मलेरिया अधिकारी एस. एन. सिंह, समस्त खंड विकास अधिकारी, प्र. चिकित्सा अधिकारी आदि उपस्थित थे ।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे

Donate Now

[responsive-slider id=1466]
error: Content is protected !!