बैंकर्स कल्याणकारी, लाभाथीर्परक योजनाओं में प्रेषित पत्रावालियों को स्वीकृत कर ऋण वितरण करें:– जिलाधिकारी – बहुजन इंडिया 24 न्यूज

बैंकर्स कल्याणकारी, लाभाथीर्परक योजनाओं में प्रेषित पत्रावालियों को स्वीकृत कर ऋण वितरण करें:– जिलाधिकारी

1 min read
😊 Please Share This News 😊

संवाददाता : : मैनपुरी   :: अवनीश कुमार   :: Date :: 19 .10 .2022 :: बैंकर्स कल्याणकारी, लाभाथीर्परक योजनाओं में प्रेषित पत्रावालियों को स्वीकृत कर ऋण वितरण करें:– जिलाधिकारी

जिलाधिकारी ने व्यापारी बंधुओ संग की बैठक, हेल्थ ए.टी.एम में सहयोग के लिए आगे आने की बोला मैनपुरी 18 अक्टूबर, 2022- बैंकर्स जन कल्याणकारी, लाभाथीर्परक योजनाओं में प्रेषित पत्रावालियों को स्वीकृत कर ऋण वितरण करें। ताकि लाभार्थी अपना स्वतः रोजगार स्थापित कर स्वावलाम्बी बन सकें। कुछ बैंकर्स द्वारा पत्रावलियों को अकारण निरस्त किया जा रहा है। जिसके फलस्वरूप लाभाथिर्यों को शासन की जन कल्याणकारी योजनाओं का लाभ नहीं मिल पा रहा है। बैंक ऑफ बडौदा द्वारा अभी तक किसी भी लाभाथीर्परक योजना में कोई ऋण वितरण नहीं किया गया है। बैंक ऑफ बड़ौदा द्वारा प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कायर्क्रम में प्रेषित 07 पत्रावलियों एवं एक जनपद-एक उत्पाद में प्रेषित 06 पत्रावलियों को निरस्त कर वापस किया है। सम्बन्धित शाखा प्रबन्धक स्वयं संज्ञान लेकर देखें अन्यथा की दशा में लाभाथीर्परक योजनाओं में लापरवाही बरतने पर मजबूरन कायर्वाही को विवश होना पड़ेगा।

बहुजन प्रेरणा दैनिक समाचार पत्र व बहुजन इंडिया 24 न्यूज़ (सम्पादक- मुकेश भारती ) किसी भी शिकायत के लिए सम्पर्क करे – 9336114041

श्री सिंह ने समीक्षा के दौरान पाया कि मुख्यमंत्री युवा स्वःरोजगार योजना में भौतिक लक्ष्य 70 एवं वित्तीय माजिर्न 135.80 लाख के सापेक्ष 113 ऋण आवेदन विभिन्न बैंकों को प्रेषित किए गए। जिनमे से 54 ऋण आवेदन पत्रों को स्वीकृत कर 31 पर बैंकों द्वारा ऋण वितरण किया गया। प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कायर्क्रम के अन्तगर्त भौतिक लक्ष्य 96 एवं वित्तीय लक्ष्य 278.40 लाख के सापेक्ष 197 आवेदन पत्र बैंकों को प्रेषित किए गए। जिनमे से बैंकों द्वारा 67 प्राथर्ना पत्र स्वीकृत कर 34 पर ऋण वितरण किया गया। एक जनपद-एक उत्पाद में वाषिर्क लक्ष्य 40, वित्तीय लक्ष्य 100 लाख के सापेक्ष 189 पत्रावलियां बैंकों को प्रेषित की गयीं। जिसमें से 30 पत्रावलियो को स्वीकृत कर 13 आवेदन पत्रों पर ऋण वितरित किया गया। उन्होने एकल मेज व्यवस्था की समीक्षा के दौरान पाया कि अब तक 1625 आवेदन पत्र प्राप्त हुये जिनका शत-प्रतिशत निराकरण किया जा चुका है। जिलाधिकारी ने बैठक में उपस्थित व्यापारी बंधुओं, राइस मिलसर् एसोसिएशन, ईट भट्ठा एसोसिएशन के पदाधिकारियों से कहा कि जनपद के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों पर निःशुल्क जांच हेतु हेल्थ ए.टी.एम. की स्थापना जनप्रतिनिधियों, उद्यमियों के सहयोग से की जानी है। हेल्थ ए.टी.एम. के माध्यम से खून संबंधी लगभग 30 जांचें निःशुल्क होंगी। जांच का पूरा व्यय भार स्वास्थ्य विभाग द्वारा वहन किया जाएगा। उन्होंने उद्यमियों का आह्वान करते हुए कहा कि उद्योगों से कॉरपोरेट सोशल रिस्पांसिबिलिटी (सी.एस.आर.) की धनराशि से समस्त एसोसिएशन जनपद में कम से कम 03 हेल्थ ए.टी.एम. स्थापित कराकर इस पुनीत कार्य में अपना सहयोग प्रदान करें।      बैठक में मुख्य विकास अधिकारी विनोद कुमार, अपर जिलाधिकारी राम जी मिश्र, मुख्य चिकित्साधिकारी डा. पी.पी. सिंह, प्रभागीय निदेशक सामाजिक वानिकी एस.एन.मौर्य, क्षेत्राधिकारी नगर संतोष कुमार, उपायुक्त जीएसटी. उत्तम तिवारी, जिला अग्रणी प्रबन्धक अनिल प्रकाश तिवारी, जिला ग्रामोद्योग अधिकारी पवन यादव, अधिशाषी अधिकारी लाल चन्द्र भारती, अधिशाषी अभियंता विद्युत मागेन्द्र कुमार, उद्यमी अमित अग्रवाल, अनिल अग्रवाल, के.के. गुप्ता, घनश्याम दास गुप्ता, लक्ष्मी नारायण तापड़िया, अजय दुबे आदि उपस्थित रहे, बैठक का संचालन उपायुक्त उद्योग मो. सऊद ने किया।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे

Donate Now

[responsive-slider id=1466]
error: Content is protected !!