बलरामपुर : 15 मतों से जीतकर हर्रैया सतघरवा ब्लॉक प्रमुख बने अविरल सिंह – बहुजन इंडिया 24 न्यूज

बलरामपुर : 15 मतों से जीतकर हर्रैया सतघरवा ब्लॉक प्रमुख बने अविरल सिंह

1 min read
😊 Please Share This News 😊

बहुजन इंडिया 24 न्यूज़ व बहुजन प्रेरणा दैनिक हिंदी समाचार पत्र ( सम्पादक मुकेश भारती ) 9161507983

बलरामपुर : ( बी०पी० बौद्ध – ब्यूरो रिपोर्ट )


बलरामपुर : 15 मतों से जीतकर हर्रैया सतघरवा ब्लॉक प्रमुख बने अविरल सिंह

जनपद के विकास खण्ड हरैया सतघरवा में ब्लॉक प्रमुख पद के लिए शनिवार को कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच चुनाव हुआ। इसमें भाजपा समर्थित गुलाब पाठक को 15 मतों से हार का मुँह देखना पड़ा। कांग्रेस के समर्थन से चुनाव लड़ रहे पूर्व विधायक धीरेंद्र प्रताप सिंह धीरु के भतीजे अविरल सिंह ने 74 मत पाकर जीत का सेहरा बांधा। इसके अलावा भाजपा समर्थित सात एवं एक बागी प्रत्याशी निर्विरोध चुने जा चुके हैं। ऐसे में नौ ब्लॉकों में से आठ पर भाजपा के उम्मीदवार प्रमुख बने हैं। मतदान व मतगणना शांतिपूर्ण संपन्न हुई। जनपद के आठ ब्लॉकों में प्रमुख पद पर निर्विरोध निर्वाचन के बाद सबकी निगाहें हरैया सतघरवा विकास खण्ड पर टिकी थीं। यहां भाजपा समर्थित प्रत्याशी गुलाब पाठक व कांग्रेस के समर्थन से पूर्व विधायक धीरेंद्र प्रताप सिंह धीरू के भतीजे अविरल सिंह के बीच सीधा मुकाबला था। नामांकन पत्र बिक्री के दिन दोनों के समर्थकों के बीच हुए विवाद के कारण यहां का चुनाव काफी संवेदनशील माना जा रहा था। इसे देखते हुए प्रशासन भी पूरी तरह चौकन्ना था। ब्लॉक कार्यालय के चारों तरफ काफी संख्या में पुलिस बल तैनात रही। कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच क्षेत्र पंचायत सदस्य वोट डालने पहुंचे। ठीक 11:00 बजे से मतदान शुरू हो गया, जो दोपहर 3:00 बजे तक चला। गेट पर ही मतदाताओं की सघन तलाशी की जा रही थी। बीडीसी का सूची से मिलान करने के साथ मतदाता सहायकों की भी पड़ताल की जाती रही। यहां 41 बीडीसी के सहायकों ने वोट डाले। तय समय तक 134 क्षेत्र पंचायत सदस्यों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। मतगणना के बाद परिणाम आते ही विजई प्रत्याशी के खेमे में कांग्रेस जिंदाबाद के नारे लगने लगे। गुलाब पाठक को 59 मत मिले। एक मत अवैध रहा। पर्यवेक्षक के रुप में वाह्य सहायतित परियोजना विभाग के विशेष सचिव प्रशांत शर्मा, अपर जिला अधिकारी अरुण कुमार शुक्ला, एसडीएम डॉ नागेंद्र नाथ यादव व ए०के० गौड़ मौजूद रहे। सहायक को लेकर रही अफरा-तफरी मतदान के लिए आए खैरपुरवा के बीडीसी बाबूराम के सहायक की उम्र 20 साल होने के कारण भाजपा समर्थित प्रत्याशी के लोग काफी देर तक अधिकारियों से वार्ता करते रहे। बाद में बिना सहायक के ही बीडीसी को मतदान के लिए अन्दर जाना पड़ा। गोद में लेकर पहुंचे सहायक टेढ़वा की बीडीसी 90 वर्षीय जामवंती देवी को उनके सहायक सत्यदेव पाठक गोद में लेकर ब्लॉक कार्यालय पहुंचे। लालपुर कंजेभरिया के दिव्यांग बीडीसी मारूफ को उनके सहयोगी पवन सिंह पीठ पर लादकर वोट डालने के लिए आए। परिणाम आते ही निकल गए माननीय एक ही विकास खण्ड में चुनाव होने के कारण तीन विधायक शिवपुरा स्थित भाजपा समर्थित प्रत्याशी कार्यालय पर डटे रहे। तुलसीपुर विधायक कैलाश नाथ शुक्ला, गैसड़ी विधायक शैलेश सिंह शैलू, भाजपा जिलाध्यक्ष प्रदीप सिंह पूरे समय तक मौजूद रहे। परिणाम की घोषणा होते ही सभी माननीय वहां से निकल लिए।


( बी०पी० बौद्ध – ब्यूरो रिपोर्ट )

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे

Donate Now

[responsive-slider id=1466]

You may have missed

error: Content is protected !!