मैनपुरी *:* पत्रकरो को दबाब मे लेकर चौथे स्तम्भ को तोड़ने का किया जा रहा है काम जिलाध्यक्ष ऋषीकान्त दुबे – बहुजन इंडिया 24 न्यूज

मैनपुरी *:* पत्रकरो को दबाब मे लेकर चौथे स्तम्भ को तोड़ने का किया जा रहा है काम जिलाध्यक्ष ऋषीकान्त दुबे

1 min read
😊 Please Share This News 😊

बहुजन इंडिया 24 न्यूज़ बहुजन प्रेरणा हिंदी दैनिक समाचार पत्र ( सम्पादक मुकेश भारती ) 9161507983
मैनपुरी *:* (सुजाउददीन- ब्यूरो रिपोर्ट )


मैनपुरी *:* पत्रकरो को दबाब मे लेकर चौथे स्तम्भ को तोड़ने का किया जा रहा है काम जिलाध्यक्ष ऋषीकान्त दुबे

पत्रकरो को दबाब मे लेकर चौथे स्तम्भ को तोड़ने का किया जा रहा है काम जिलाध्यक्ष ऋषीकान्त दुबे करहल मैनपुरी करहल। आये दिन पत्रकरो के साथ हो रहे उत्पीड़न और अत्याचार को देखते हुए इलेक्ट्रॉनिक एंव प्रिंट मीडिया वेलफेयर एशोसिएशन(भारत) के तत्वाधान में पत्रकारों ने एक होकर राष्ट्रपति के नाम सम्बोधित एक ज्ञापन एसडीएम करहल को सौपा है। ज्ञापन में बताया गया है कि ये आपसे बेहतर और कौन जान सकता है, लोकतंत्र के चार स्तम्भ बेहद आवश्यक होते है। एक के बिना दूसरा और दूसरे के बिना तिसरा अधूरा माना जाता है, लेकिन इस वक्त देश का चौथा स्तम्भ खतरें में है। हाल फिल्हाल के किस्सों पर गौर करें तो फोटो जर्नलिस्ट दानिश सिद्दीकी की आंतकी हमले में हुई मौत ने सभी को झकझोर कर रख दिया। इसके बाद विश्वसनीय अखबार दैनिक भास्कर ग्रुप और कम समय में अच्छा नाम कमाने वाले इलैक्ट्रोनिक चैनल भारत समाचार इन दिनों काफी मुश्किल में हैं। बता दें 22 जुलाई को आयकर विभाग ने दैनिक भास्कर के भोपाल, जयपुर, अहमदाबाद और कुछ अन्य स्थानों पर स्थित परिसरों में टैक्स चोरी के आरोप में छापेमारी की। वहीं, उत्तर प्रदेश के समाचार चैनल भारत समाचार के दफ़्तर साथ ही संपादक ब्रजेश मिश्रा और स्टेट हेड वीरेंद्र सिंह के घरों पर भी छापा मारा गया है। इस घटना के बाद से ही संस्थान से जुड़े पत्रकार काफी नाराज़ है, जिसके बाद पत्रकारों ने सरकार पर सवाल उठाए। एक तरफ पत्रकारों का कहना है कि दैनिक भास्कर और भारत समाचार पर पड़ी छापेमारी उन्हें डराने, धमकाने का प्रयास है। हम देश का चौथा स्तम्भ है और जनता को सरकार का आईना दिखाना हमारा काम है। लेकिन हम पर सरकार के खिलाफ दबिश बनाई जाती है। हमें पीटा जाता है, हमें धमकाया जाता है। हमें अपने काम को सही से ना करने के लिए दबाया जाता है। हमने कोरोना के समय देश के खराब हालात को जनता के सामने रखा। इसी वजह से सरकार आढ़े – टेढ़े मामलों में हमें फसाना चाह रही है। देखा जाए तो पिछले कुछ समय से पत्रकारों पर होने वाले हमले, षडयंत्र की खबरे लगातार बढ़ रही है। आज भारत समाचार, दैनिक भास्कर जैसे बड़े ग्रुप पर गाज गिरी है. कल के दिन किसी और चैनल, अखबार, डिजिटल प्लेटफॉर्म सरकार के निशाने पर आ सकता है। ऐसे में महामहिम राष्ट्रपति आपसे अनुरोध है कि चौथे सत्म्भ पर बढ़ते ख़तरे का जायज़ा ले और सही जांच की ओर अहम कदम उठाएं। हम भारत के लोग इस खुले पत्र के माध्यम से पुन: अनुरोध करते हैं कि सच का आईना दिखाने वाले पत्रकारों पर लगातार हो रहे हमले का आप खुद संज्ञान ले। उच्च न्यायालय की निगरानी में जांच कार्यवाही अपने स्तर से देखें और उचित सदस्यों के साथ बैठक करें। ताकि हमारे लोकतंत्र का चौथा स्तम्भ वापस उसी मज़बूती और बेबाकपन के साथ खड़ा रहे। इस दौरान जिलाध्यक्ष ऋषीकान्त दुबे, गौरी तिवारी, विवेक पांडेय, सायमुल हसन(डालमिया), ब्रजकिशोर मिश्रा, प्रमोद यादव, ओमकार मिश्रा, हर्ष यादव लवी, प्रशांत यादव, रोली यादव, हिमांशू जैन, अंकित शाक्य, अनिल यादव समेत आदि तमाम लोग मौजूद रहे।


मैनपुरी *:* (सुजाउददीन- ब्यूरो रिपोर्ट )

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे

Donate Now

[responsive-slider id=1466]

You may have missed

error: Content is protected !!